Google Custom Search


Custom Search

आज का विचार

आज का विचार (Thought of the Day in Hindi): (Subscribe by e-mail)

Last Modified: मंगलवार, 4 अक्तूबर 2011

आत्म-अनुशासन : कर्मशीलता

(Original Post : Self-Discipline : Industry June 9th, 2005 by Steve Pavlina)    

कर्मशीलता का अर्थ है कड़ी-मेहनत| कठिन-परिश्रम की तुलना में, कर्मशील होने के लिए आपको जरूरी नहीं कि वही काम करना होगा जोकि चुनौतीपूर्ण है या फिर कठिन है| इसका सीधा सा अर्थ है कि आपको काम में अपना समय देना होगा| आप कर्मशील, आसान काम करके भी बन सकते हैं और कठिन काम करके भी|

मान लीजिए आपका घर में एक छोटा शिशु (baby) है| और आपका काफी वक्त डाईपर(बच्चों का लंगोट) बदलने में खर्च हो जाता है| अब यह असल में कोई कठिन काम तो नहीं - बात सिर्फ इस काम को बार-बार, दिन में कई बार करने की है|

आपको जिंदगी में ऐसे कई काम मिलेंगे जो जरूरी नहीं कि बहुत कठिन ही हों, लेकिन सामूहिक रूप से उन्हें काफी वक्त देने की जरुरत पडती है| अगर आप उनसे पार पाने के लिए खुद को अनुशासित नहीं रखते हैं तो वे आपके जीवन में काफी उथल-पुथल पैदा कर सकते हैं| एक पल के लिए उन सभी छोटी-छोटी चीजों के बारे में सोचिए, जिन्हें करना आपके लिए जरूरी है : खरीददारी, खाना-बनाना, सफाई करना, कपडे धोना, टैक्स, बिल चुकाना, घर संभालना, बच्चों की देखभाल, आदि-आदि| और यह तो केवल घर के लिए है - यदि इसमें आप ऑफिस, के काम भी जोड़ लें तो सूची और भी लंबी हो जाती है| ये सभी चीजें शायद कभी भी आपकी महत्वपुर्ण कार्यों की सूची में न आ पाएं लेकिन फिर भी इन्हें करना जरूरी तो है ही|