Google Custom Search


Custom Search

आज का विचार

आज का विचार (Thought of the Day in Hindi): (Subscribe by e-mail)

Last Modified: रविवार, 25 दिसंबर 2016

फ़कीर बन कर भी आप कैसे खुश रह सकते हैं ?


(Based on Post : “Be a Fun Broke Person” by Steve Pavlina)  

दोस्तों हम सभी के जीवन में कभी न कभी ऐसा मुकाम जरूर आता है जब हम जीवन में एक स्तर पर आकर ठहर जाते हैं| हम आगे तो बढना चाहते हैं लेकिन असफल होने का डर हमें आगे बढ़ने नहीं देता| उदाहरण के तौर पर अगर आप अपनी जॉब से खुश नहीं हैं और आप इसे छोड़ कर अपना बिज़नस करना चाहते हैं और आपने इसके फायदे और नुक्सान का भी अनुमान लगा कर उसकी तैयारी भी कर ली है लेकिन फिर भी आपको यह डर सताता है कि अगर बिज़नस नहीं चला तो क्या होगा? बिज़नस तो दूर की बात है नौकरी से भी हाथ धोना पडेगा| कंगाल होने का यह डर आपको कभी भी आगे बढ़ने नहीं देगा| 

मान लीजिए कि आपने हिम्मत करके अपना बिज़नस शुरू भी कर दिया और कुछ समय तक ठीक-ठाक चलने के बाद वह बुरी तरह से असफल हो गया| अब आप क्या करेंगे? कैसे खुद को संभालकर अपने जीवन को वापस पटरी पर लायेंगे| स्टीव पव्लीना नें इस विषय पर एक आर्टिकल लिखा है “Be a Fun Broke Person” जिस पर आधारित लेख आपके सामने हाजिर है|

अगर आपको कंगाल होने का डर सताता है तो आप चाहे जितनी भी तैयारी कर लें आप आगे बढ़ने की हिम्मत नहीं जुटा पाएंगे|

क्या ऐसा हो सकता हैं कि आप जीवन भर के लिए कंगाल होकर भी खुशी से झूमते रह सकते है? अगर आपको ऐसा सोचना भी मजाक लगता हैं तो फिर :

1.    आप समझ ही नहीं पा रहे कि जीवन में आखिर क्या मायने रखता है ?
2.   आपको लगता है कि पैसे के आते ही आपके जीवन की सभी problems चुटकी बजाते ही हल हो जायेंगी|
3.   आप एक बोरिंग किस्म के इंसान हैं|



आपको क्या लगता है कि आखें बंद करना, खुद को लाचार समझना, और एक बोरिंग इंसान होना आपको आगे बढ़ने में किसी भी तरह से मदद करता है| अगर आपको किसी व्यक्ति को एक नौकरी पर  रखना हो तो आप क्या इस तरह के इंसान को नौकरी देना पसंद करेंगे?




फ़कीर होने का अपना मजा है|

यह एक रोमांचक अनुभव है|

यह आपकी क्रिएटिविटी के लिए एक चैलेंज है – इससे दूर भागने की कोशिश न करें बल्कि फ़कीर होने के इस अनुभव का पूरी तरह से आनंद लें|

सिर्फ इसलिए कि आपके पास पैसे नहीं हैं आपका जीवन रुकना नहीं चाहिए|

आप अभी भी किसी से प्यार कर सकते हैं|

आप हंस सकते हैं|

आप एक्सरसाइज कर सकते हैं|

आप महान व्यक्तियों द्वारा लिखी गई किताबें पढ़ सकते हैं|

आप लिख सकते हैं| आप संगीत रच सकते हैं| आप कलाकारी कर सकते हैं| अगर आपके पास पेन्टिंग का सामान खरीदने की लिए पैसे नहीं हैं, तो आप रेत से कला का नमूना बना सकते हैं| अगर आपके पास संगीत के साज खरीदने के लिए पैसे नहीं हैं तो आप गाना गा सकते हैं|

आप लिफ्ट मांग कर दूर-दूर की यात्रा कर सकते हैं|

आप अपने सोशल स्किल्स पर काम कर सकते हैं और ढेरों नए दोस्त बना सकते है|

जब मैं कंगाल हुआ तो मैं एक कार्डबोर्ड बॉक्स को मेज की तरह इस्तेमाल करता था| तो क्या मुझे इस बात का बुरा लगता था ? क्या अच्छा नहीं होता कि मैं इस बात को मजाक में उड़ा देता| जब आप कंगाल होते हैं  हैं तो आपको ऐसे ही बेफकूफी भरे काम करने पड़ते हैं|

आप कंगाल हैं, तो क्या? कृपया करके राई का पहाड़ मत बनाइये और इसे कोई ऐसी चीज मत समझिए जिससे कि आप जितनी जल्दी हो सके भागने की कोशिश करें| इसके बारे में चिंता करना छोड़ दीजिए| वैसे भी अगर दुनिया के हिसाब से देखें तो अगर आप इसे आर्टिकल को पढ़ पा रहें हैं तो आप बहुत से लोगों से बहुत अच्छी हालत में है| आप शायद अभी भी दुनिया के उस हिस्से से ताल्लुक रखते  हैं जो कि अमीर है|  इस दुनिया के बहुत से लोग खुशी-खुशी आपके जैसे कंगाल होने के लिए तैयार हो जायेंगे, और उनके हिसाब से तो यह बहुत ही शान की बात होगी, आपके पास पीने के लिए साफ़ पानी है? आपको रोज हिंसा का सामना नहीं करना पड़ता ? इन्टरनेट – वो क्या होता है ? अगर आप इसका प्रयोग करते हैं तो जरूर आप बहुत ही अमीर होंगे !




ज़रा अपनी जिन्दगी को उनके नजरिए से देखने की कोशिश करें| इसे महसूस करें कि जहां आप यह मान बैठे हैं आप बिलकुल कंगाल हो चुके हैं, वहीं हकीकत में आप इतने अमीर हैं!

और भगवान् के लिए इतने बोरिंग इंसान मत बनिए| कंगाल होने का बहाना नहीं चलेगा| खुशी को अपने जीवन में वापस लाइए,| वह काम जो आपको खुशी देता है उसे मत छोडिए तब भी जब आप पूरी तरह से दिवालिया हो चुके हों, इसलिए नहीं कि इससे आप अपना गम थोड़ी देर के लिए भुला सकते है बल्कि इसलिए कि आप इस बात को महसूस कर चुके हैं कि आपके पास पहले ही इतना कुछ है| डरना और खुद को दोषी ठहराना छोडिए| अपने जीवन को आज और अभी खुशियों से पूरी तरह से भर दीजिए| अपने सपनों को सिर्फ इसलिए ठन्डे बस्ते में मत डालिए क्योंकि आपके पास उन्हें पूरे करने के लिए पैसे नहीं हैं| यह तो कोरी नासमझी ही है| और कोई भी ऐसा करना पसंद नहीं करता| आप ही बताइए कि क्या आप ऐसी फिल्म को देखना पसंद करेंगे जिसके अंत में हीरो हार मानकर बैठ जाता है|

आपके पास ज्यादा पैसे नहीं हैं इसके बार-बार सोचकर खुद को परेशान मत कीजिए| इस फकीरी में भी गर्व महसूस कीजिये| इसमें कुछ भी गलत नहीं है| वही हुआ जिससे आपको हमेशा डर लगता था और आप अभी भी अपने पैरों पर खड़े हैं और उसका सामना कर रहे हैं क्या ऐसा करने के लिए हिम्मत नहीं चाहिए?

जीवन में आगे बढ़ने के लिए आपको जरूर कोशिश करनी चाहिए लेकिन इसका यह मतलब नहीं कि वर्तमान को नजरअंदाज करके आप सुंदर भविष्य के सपनों में खोए रहें| आप पहले ही कितने अमीर हैं ज़रा इस पर गौर कीजिये| आज और अभी से जीवन के हरेक पल का पूरा मजा लीजिए|

अपने रिश्तों को अभी से संभालना शुरू कीजिये इस काम को आने वाले कल पर मत टालिए|

इन दिनों मेरे पास धन-दौलत की कमी नहीं है| लेकिन क्या आप जानते हैं कि मेरा सबसे बड़ा खजाना क्या है? वह यह है कि अब मुझे कंगाल होने से डर नहीं लगता| मैंने तभी अमीर होना सीख लिया था जब कि मेरे पास फूटी कौड़ी भी नहीं थी| इसलिए अब मैं कंगाल होने के डर से आजाद हूँ| अगर ऐसा फिर से होता है तो न तो यह असफलता होगी और न ही कोई ऐसी चीज जिसे लेकर मुझे शर्मिन्दा होना चाहिए| बल्कि यह तो और भी मजेदार और बड़ी चुनौती होगी|




अब कुछ लोग कहेंगे, “मैं गरीब भी रह चुका हूँ और अमीर भी| अमीर होना अच्छा है|”

मैं तो इसे खुशफहमी ही मानता हूँ! अमीरी-गरीबी से बेहतर नहीं होती| बस यह उससे अलग होती है| आपको यकीन न हो तो अपने किसी ऐसे करीबी रिश्तेदार से पूछ कर देख लीजिए जो आपके हिसाब से बहुत अमीर हो| क्या उसे रात को ठीक से नींद आती है| क्या उसे भूख लगती है? और क्या वह खुश है? अमीर वो होता है जो अपने जीवन के हर पल को पूरी तरह से जीना जानता है| अगर आप वाकई में अमीर हैं तो फिर आप हमेशा अमीर ही रहेंगे और इससे कोई फर्क नहीं पडेगा कि आपके पास कितने पैसे हैं| तो अमीरी-गरीबी का पता इंसान सोच से लगता है न कि उसके पास कितनी धन-दौलत है इससे|

मैं फिर से आप से कहता हूँ कि एक उदास फ़कीर मत बनिए| आखिर दुनिया में कोई भी व्यक्ति कैसे आपकी मदद कर पायेगा अगर आप हमेशा इतने बोरिंग किस्म के इंसान बने रहेंगे?

मुझे ऐसे लोगों से मिलना बहुत अच्छा लगता है जिनके पास ज्यादा पैसे नहीं होते, लेकिन बोरिंग किस्म के व्यक्तियों से नहीं... और ऐसे लोगों से तो बिलकुल भी नहीं जोकि खुद को कोसते रहते हैं... और न ही उन लोगों से जोकि हमेशा इस चिंता में डूबे रहते हैं कि उनके जीवन में पता नहीं आगे क्या गड़बड़ होने वाली है|

जो चीजें बनी हैं वे कभी खराब भी होंगी, उनके चिंता मत कीजिये और इसे हंसी में उड़ा दीजिए|

तो आपके ऊपर late fees लगा दी गई है? आप अपने मकान का किराया नहीं दे सकते| आपकी कार भी खराब होनी वाली है| इतनी बड़ी दुनिया में आपकी यह चिंताएं आखिर क्या मायने रखती हैं? क्या आपका इन बातों को लेकर इतना दुखी हो जाना सही है? दुनिया तो इंसान को मंगल गृह पर भेजने की तैयारी कर रही है और आप अपने किराए को लेकर परेशान हो रहें है| आपको नहीं लगता कि आपको भी अपनी चिंता का स्टैण्डर्ड थोड़ा बढ़ाना चाहिए|

एक मस्त फ़कीर बनिए|

ज्यादा हंसिये, ख़ास कर कि अपनी परेशानियों पर|

पढ़िए

एक्सरसाइज कीजिये

मुस्कराइए

दोस्तों को गले लगाइए

और एक खिलाड़ी बनकर जीवन की चुनौतियों का डटकर सामना कीजिये|


[यह article आपको कैसा लगा, कृपया comments के जरिए इस पर अपनी राय जाहिर करें, अगर आपके पास इस article से जुडी कोई जानकारी या सुझाव हो तो आप उसे 3kbiblog@gmail.com पर भेज कर हमारे साथ share कर सकते हैं | ]


नए लेख ई-मेल से प्राप्त करें : 


Some related links (कुछ सम्बंधित लिंक)

दूसरे लोग आपके बारे में क्या सोचेंगे
जीवन में पीछे छूटने पर वापसी कैसे करें?
डिप्रेशन (अवसाद) को कैसे दूर भगाएं?
दिल से नाता जोड़िए
Read More Articles in Hindi

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

इस लेख पर अपनी राय जाहिर करने के लिए आपका धन्यवाद|